Monday, May 27, 2024

सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्रालय ने आज ‘श्रमदान कार्यक्रम’ का आयोजन किया

- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

माननीय प्रधानमंत्री के ‘एक तारीख एक घंटा एक साथ’ के राष्ट्रीय आह्वान को संबोधित करते हुए, सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम (एमएसएमई) मंत्रालय ने आज नई दिल्ली में विकास सुविधा कार्यालय, ओखला, फेज़ -1 में ‘‘कचरा मुक्त भारत’’ की थीम पर ‘श्रमदान’ का आयोजन किया। यह स्वच्छ भारत बनाने का एक संगठित प्रयास था। एमएसएमई मंत्रालय ने देश भर में अपने संगठन और क्षेत्रीय कार्यालयों के साथ इस विशाल स्वच्छता अभियान को सफल बनाने के लिए इस आयोजन में भाग लिया।

इस ‘श्रमदान’ सहित चल रहे स्वच्छता ही सेवा (एसएचएस) अभियान के बारे में जागरूकता पैदा करने के लिए बैनर/पोस्टर विभिन्न प्रमुख और उच्च फुटफॉल वाले क्षेत्रों में लगाए गए थे। क्षेत्र-वार नोडल अधिकारियों को चिन्हित क्षेत्रों में स्वच्छता अभियान चलाने, सड़कों/कॉलोनी पार्कों/सार्वजनिक स्थानों में सफाई के लिए राज्य सरकार के स्वच्छता, बागवानी और अन्य नागरिक विभागों के साथ समन्वय करने की जिम्मेदारी भी सौंपी गई थी। सभी एमएसएमई अधिकारियों द्वारा इस एक घंटे के ‘श्रमदान’ के दौरान वृक्षारोपण अभियान, स्वच्छता अभियान और स्वच्छता अभियान जैसी गतिविधियां की गईं।

सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्रालय के सचिव ने स्वच्छता अभियान में भाग लेने वाले 200 से अधिक अधिकारियों/कर्मचारियों के साथ इस ‘श्रमदान’ का नेतृत्व किया। स्थानीय समुदायों के नागरिकों और फ़्लैटेड फ़ैक्टरी कॉम्प्लेक्स, ओखला के पदाधिकारियों ने भी इस कार्यक्रम में भाग लिया और लगभग 25 हजार वर्ग फुट क्षेत्र की सफाई करके उसे कचरे से मुक्त किया गया, इसमें पास का मेट्रो स्टेशन, सब्जी बाजार आदि शामिल थे। सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्रालय के सचिव ने उपस्थित सभी अधिकारियों को ‘स्वच्छता संकल्प’ की शपथ दिलाई और इसमें सभी भाग लेने वालों से यह सुनिश्चित करने का आग्रह किया कि उनके आसपास के सभी क्षेत्र कचरे से मुक्त रहें, ताकि स्वच्छता एक वास्तविकता बन पाए।

Latest Articles