Thursday, June 20, 2024

कार के एयरबैग से दहेज़ प्रथा, नितिन गडकरी और अक्षय कुमार आये निशाने पर, जाने पूरा मामला

- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी के कार में 6 एयरबैग लगाने पर जोर देने वाली एक पोस्ट ने बवाल खड़ा कर दिया है. उन्होंने सड़क सुरक्षा अभियान से जुड़ा एक वीडियो शेयर किया था, जिसे दहेज प्रथा से जोड़ा जा रहा है. इसके अलावा वीडियो में नजर आ रहे बॉलीवुड अभिनेता अक्षय कुमार भी राजनेताओं और सोशल मीडिया यूजर्स के निशाने पर आ गए हैं.

नितिन गडकरी ने किया ये ट्वीट

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने शुक्रवार को 6 एयरबैग के समर्थन में एक वीडियो शेयर किया. उन्होंने लिखा, ‘6 एयरबैग वाले वाहन में सफर कर जीवन को सुरक्षित बनाएं. इस वीडियो में अक्षय कुमार भी नजर आ रहे हैं. अब कई राजनेता प्रतिक्रिया दे रहें हैं और कह रहे हैं कि इस वीडियो के माध्यम से दहेज प्रथा को बढ़ावा दिया जा रहा है (दहेज लेना या देना भारत में दंडनीय अपराध है).

वीडियो में ‘दहेज’ शब्द का इस्तेमाल नहीं

हालांकि अक्षय ने वीडियो में ‘दहेज’ शब्द का इस्तेमाल नहीं किया है, न ही वीडियो की सामग्री का इस्तेमाल किया है. वीडियो में एक लड़की के विदाई सीन को दिखाया गया है. इसमें देखा जा रहा है कि पिता अपनी बेटी को शादी के बाद विदा करते हुए रो रहा है. इस बीच, अक्षय कुमार आते हैं और उन्हें अपनी बेटी और दामाद की सुरक्षा के बारे में सचेत करते हैं. वह कहते हैं, ‘ऐसी गाड़ी में बेटी को विदा करोगे तो रोना तो आएगा ही ना…’. इसके बाद पिता गाड़ी की खूबियां गिनाते हैं, लेकिन अक्षय 6 एयरबैग के बारे में पूछते हैं. वीडियो के अंत में कार बदली जाती है.

शिवसेना ने भी साधा निशाना
शिवसेना नेता प्रियंका चतुर्वेदी ने कहा कि यह समस्याग्रस्त विज्ञापन है. ऐसे क्रिएटिव कौन पास करता है? क्या सरकार इस विज्ञापन के माध्यम से कार के सुरक्षा पहलू को बढ़ावा देने या दहेज की बुराई और आपराधिक कृत्य को बढ़ावा देने पर पैसा खर्च कर रही है? तृणमूल कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता साकेत गोखले ने भी विज्ञापन पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि भारत सरकार का आधिकारिक तौर पर दहेज को बढ़ावा देना घृणित है.

Latest Articles