Thursday, July 18, 2024

देशभर में हाथियों के लिए खतरा बने 100 रेलवे ट्रैक

- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

देशभर में सौ रेलवे ट्रैक ऐसे हैं जो हाथियों के लिए काल बने हुए हैं। इनमें से दो ट्रैक कुमाऊं के हैं। पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्रालय ने सुरक्षात्मक कार्य के लिए इन सभी ट्रैक का चयन किया है। यहां सेंसर, रबर के प्लेटफार्म बनाने समेत पांच तरह के सुरक्षात्मक कार्य होंगे। जंगलात के अधिकारियों के अनुसार ट्रेन की चपेट में आ रहे हाथियों को हादसे से बचाने के लिए पर्यावरण एवं जलवायु परिवर्तन मंत्रालय और रेलवे मंत्रालय के बीच बैठक हुई। इसमें देश में सौ रेलवे ट्रैक चिह्नित किए गए जो गजराज के लिए खतरा बने हुए थे। इनमें कुमाऊं के लालकुआं-रुद्रपुर और लालकुआं-गूलरभोज रेलवे ट्रैक भी शामिल हैं। पहले चरण में इन दो जगहों पर प्राथमिकता के आधार पर सुरक्षात्मक कार्य किए जाने हैं। वन विभाग और विशेषज्ञों ने दोनों रेलवे ट्रैक का सर्वे किया और वनकर्मियों से मूवमेंट के बारे में जानकारी जुटाई थी। 13 स्थानों पर हाथियों के ज्यादा मूवमेंट की बात सामने आई है। रेलवे कर्मियों ने भी करीब सात स्थल चिह्नित किए हैं, जहां हाथियों का मूवमेंट ज्यादा है।

Latest Articles