Tuesday, April 23, 2024

उत्तराखंड का चुनावी रण: मैदान में कांग्रेस के वीरेंद्र सबसे युवा तो भाजपा की माला सबसे उम्रदराज प्रत्याशी

- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

23 साल के युवा उत्तराखंड में इस बार लोकसभा चुनाव में भाजपा-कांग्रेस ने युवाओं को तरजीह दी है। दोनों पार्टियों के 10 प्रत्याशियों में हरिद्वार लोकसभा से कांग्रेस के वीरेंद्र रावत सबसे युवा उम्मीदवार हैं, जबकि टिहरी लोकसभा से भाजपा की माला राज्य लक्ष्मी शाम सबसे उम्रदराज प्रत्याशी हैं।

भाजपा में आयु के हिसाब से देखें तो अल्मोड़ा के प्रत्याशी अजय टम्टा 51 साल आयु के साथ सबसे युवा प्रत्याशी हैं। 53 साल आयु के साथ गढ़वाल के प्रत्याशी अनिल बलूनी दूसरे और हरिद्वार के प्रत्याशी त्रिवेंद्र सिंह रावत 63 साल के साथ तीसरे स्थान पर हैं। भाजपा में नैनीताल के प्रत्याशी अजय भट्ट 62 और माला राज्य लक्ष्मी शाह करीब 73 साल आयु की प्रत्याशी हैं। कांग्रेस में आयु के हिसाब से हरिद्वार प्रत्याशी वीरेंद्र रावत 49 साल के साथ पहले स्थान पर हैं। नैनीताल प्रत्याशी प्रकाश जोशी करीब 54 साल आयु के साथ दूसरे स्थान पर हैं। गढ़वाल प्रत्याशी गणेश गोदियाल 58 साल आयु के साथ तीसरे स्थान पर हैं। अल्मोड़ा के प्रत्याशी प्रदीप टम्टा की आयु 66 साल और टिहरी प्रत्याशी जोत सिंह गुनसोला की आयु करीब 69 साल है। कांग्रेस में गुनसोला ही सबसे उम्रदराज प्रत्याशी हैं। 2019 लोकसभा चुनाव में जीते हुए दो सांसदों को इस बार के चुनाव में भाजपा ने मौका नहीं दिया है। उनकी जगह नए प्रत्याशी गढ़वाल में अनिल बलूनी और हरिद्वार में त्रिवेंद्र रावत को मैदान में उतारा है। वहीं, कांग्रेस ने पिछले चुनाव के अपने पांच में से चार प्रत्याशी बदल दिए हैं। इस बार हरिद्वार, टिहरी, गढ़वाल और नैनीताल सीटों पर प्रत्याशी बदले गए हैं। हालांकि अल्मोड़ा में पार्टी ने टम्टा पर ही भरोसा जताया है।

Latest Articles