Saturday, March 2, 2024
spot_imgspot_img

क्यों अचानक स्वास्तिक पर बैन लगाना चाहता है कनाडा

- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

कनाडाई सरकार हिंदू प्रतीक स्वास्तिक पर बैन लगाने की तैयारी में है। हालांकि अभी सरकार ने इस पर अंतिम फैसला नहीं लिया लेकिन उससे पहले कनाडा को कई तरह के विरोध प्रदर्शनों का सामना करना पड़ रहा है। दरअसल इस मसले पर विवाद तब शुरू हुआ जब स्वास्तिक के इस्तेमाल पर प्रतिबंध लगाने के लिए कनाडा की संसद में एक विधेयक लाया। न्यू डेमोक्रेटिक पार्टी या एनडीपी के नेता जगमीत सिंह के समर्थन वाले निजी सदस्यों के बिल ने भारत-कनाडाई समुदाय को उग्र बना दिया है।

अमेरिका स्थित एक प्रमुख हिंदू संगठन ने कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो और बिल के समर्थन वाले भारतीय मूल के नेता जगमीत सिंह से आग्रह किया है कि वे हिंदुओं के लिए एक प्राचीन और शुभ प्रतीक ‘स्वास्तिक’ को ‘हकेनक्रेज’ के साथ न मिलाएं। ‘हकेनक्रेज’ एक स्वास्तिक जैसा दिखने वाला प्रतीक है जो 20वीं सदी में नाजियों द्वारा इस्तेमाल किया जाता था।

ज्ञात हो कि पिछले कुछ  समय से कनाडा में सैकड़ों ट्रक ड्राइवर सड़कों पर विरोध कर रहे हैं। कनाडा की राजधानी ओटावा में प्रदर्शनकारियों के ट्रकों ने जाम की स्थिति पैदा कर दी। इस प्रदर्शन में कथित रूप से स्वास्तिक और कॉन्फेडरेट झंडे (गोरे लोगों के वर्चस्व का प्रतीक, विरोध का प्रतीक) लहराए गए। इस घटना के बाद  न्यू डेमोक्रेटिक पार्टी (NDP) के नेता जगमीत सिंह ने 2 फरवरी को ट्वीट कर लिखा, ‘स्वास्तिक और कॉन्फेडरेट झंडे का कनाडा में कोई स्थान नहीं है। यह कनाडा में नफरत के प्रतीकों पर प्रतिबंध लगाने का समय है। हमें साथ मिलकर यह सुनिश्चित करना होगा कि समाज में नफरत के लिए कोई जगह न हो।’

Latest Articles