Wednesday, June 19, 2024

गणपति में मुंबई को दहलाने की धमकी, कंट्रोल रूम में फ़ोन कर की 26/11 जैसी घटना को अंजाम देने की बात

- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

मुंबई : आर्थिक राजधानी मुंबई में इस साल गणेश चतुर्थी पर लोगों में काफ़ी उत्साह है. २ साल बाद यह पर्व बिना पाबंदियों के मनाया जाएगा. वही मुंबई पुलिस भी बेहद अलर्ट मूड पर है. इसके पीछे मुंबई मुंबई ट्रैफ़िक कंट्रोल रूम को आई एक कॉल है. इस कॉल में मुंबई में 26/11 जैसे आतंकी हमले को अंजाम देने के धमकी दी गई, जिसके बाद मुंबई में पुलिस को अलर्ट पर रखा गया है.

ज्‍वॉइन्‍ट सीपी (लॉ एंड ऑर्डर) विश्वास नांगरे पाटिल ने बताया कि मुंबई पुलिस सतर्क है. जो गणपति का बंदोबस्त रहता है, उसमें ख़ास रूप पर भीड़ का नियंत्रण, ट्रैफिक मॉनिटरिंग और खास तौर पर कोई भी प्राकृतिक आपदा से कैसे मुक़ाबला करे, उसकी पूरी तैयारी हो चुकी है. तैनाती बहुत ज्यादा रहेगी और तैयारियां पूरी कर ली गई हैं. गणपति आगमन से लेकर और अंत तक रोज का प्लान और कड़ा बंदोबस्त किया जाएगा. मुंबई पुलिस पूरी तरह से तैयार है.

टेरर धमकी पर वह कहते हैं कि मुंबई (Mumbai) हमेशा पूरी तरह से सतर्क और तैयार रहती है. खास तौर पर कोस्टल कमिटी, क्यूआरटी टीम सब पूरी तरह से तैनात और सतर्क हैं तो घबराने की कोई जरूरत नहीं है.

31 तारीख़ से शुरू होने जा रहे गणेश चतुर्थी के पर्व से 1 दिन पहले पुलिस कमिश्‍नर विवेक फणसलकर और ज्‍वॉइन्‍ट सीपी (लॉ एंड ऑर्डर) विश्वास नांगरे पाटिल मुंबई के प्रसिद्ध लाल बाग के राजा पहुंचे और सुरक्षा व्यवस्था का जायज़ा लिया.

ज्‍वॉइन्‍ट सीपी (लॉ एंड ऑर्डर) विश्वास नांगरे पाटिल ने कहा है कि कोई भी अफवाह पर भरोसा ना करे. 80% पुलिस को तैनात किया गया है इसके अलावा एसआरपीएफ की 18 कंपनियां, क्यूआरटी की 700 टेम है. भारी संख्या में पुलिसबल गणपति उत्सव के लिए पूरी तरह तैयार रहेगी.

गणपति पंडाल के साथ-साथ मुंबई के प्रसिद्ध सिद्धिविनायक मंदिर के बाहर भी भारी पुलिस बंदोबस्त पूरे गणेश उत्सव के दौरान होगा, जहां पुलिस की निगरानी पूरे गणेश उत्सव में बनी रहेगी, क्‍योंकि गणेश उत्सव के दौरान भक्तों की भारी भीड़ उमड़ती है.

Latest Articles