Friday, March 1, 2024
spot_imgspot_img

बर्फ से लकदक हुए बदरीनाथ और केदारनाथ धाम, काम ठप होने से बढ़ी मुश्किलें

- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

बदरीनाथ धाम इन दिनों बर्फ से लकदक है। आस्था पथ पर करीब चार फीट तक बर्फ जमी है। यदि दोबारा मौसम खराब होता है तो यात्राकाल में तीर्थयात्री भगवान बदरीनाथ के साथ ही बर्फ के भी नजदीक से दर्शक कर सकेंगे।
बीते दिनों लगातार तीन दिनों तक हुई बर्फबारी से बदरीनाथ धाम चारों ओर से बर्फ से ढक गया है।
केदारनाथ धाम में इन दिनों छह से आठ फीट तक बर्फ जमा है, जबकि अन्य स्थानों पर 12 से 15 फीट तक बर्फ के ढेर लगे हैं। भारी बर्फ के कारण केदारनाथ में पुनर्निर्माण कार्य ठप पड़े हैं। केदारनाथ में बर्फबारी से होने वाले नुकसान का जायजा लेने के लिए जल्द ही एक टीम केदारनाथ जाएगी। मौसम ठीक रहा तो मार्च के तीसरे सप्ताह से बर्फ हटाने का कार्य शुरू कर दिया जाएगा।
बदरीनाथ धाम परिसर में भी चार से पांच फीट तक बर्फ जमी हुई है। बर्फबारी के बाद सामान्य हुए मौसम से धाम के सौंदर्य में निखार आ गया है। केदारनाथ धाम में इन दिनों छह से आठ फीट तक बर्फ जमा है, जबकि अन्य स्थानों पर 12 से 15 फीट तक बर्फ के ढेर लगे हैं। भारी बर्फ के कारण केदारनाथ में पुनर्निर्माण कार्य ठप पड़े हैं।
केदारनाथ धाम में ढाई माह से पुनर्निर्माण कार्य ठप हैं। बीते वर्ष 6 नवंबर को केदारनाथ धाम के कपाट शीतकाल के लिए बंद हो गए थे। तब, से अभी तक यहां तक 10 से अधिक बार भारी से भारी बर्फबारी हो चुकी है।भीमबली से केदारनाथ के बीच कई जगहों पर विशालकाय हिमखंड हैं, जिससे आगामी यात्रा तैयारियों को लेकर प्रशासन और श्रीबदरीनाथ-केदारनाथ मंदिर समिति को दिक्कतें हो सकती हैं।जिलाधिकारी मनुज गोयल ने बताया कि जल्द ही एक टीम केदारनाथ भेजी जाएगी, जो वहां पैदल मार्ग से धाम तक बर्फ की वास्तविक स्थिति की जानकारी देगी। मौसम ठीक रहा तो मार्च तीसरे सप्ताह से बर्फ सफाई का कार्य शुरू कर दिया जाएगा, जिससे समयबद्ध यात्रा की सभी तैयारियां पूरी की जा सके।

Latest Articles