Thursday, June 20, 2024

नाबालिग हिंदू लड़की के साथ हुए गैंगरेप के मुद्दे पर घिरा पाकिस्तान

- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

न्यूयाॅर्कः नाबालिग हिंदू लड़की के साथ हुए गैंगरेप के मुद्दे पर पाकिस्तान बुरी तरह घिरता नजर आ रहा है. संयुक्त राष्ट्र में पाकिस्तान के दूत मसूद खान को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कुछ ऐसे सवालों का सामना करना पड़ा, जिसने उन्हें असहज कर दिया. वर्जीनिया से कांग्रेस की पूर्व उम्मीदवार, भारतीय मूल की मांगा अनंतमुला ने पाकिस्तानी दूत मसूद खान से कहा कि वह अपने देश में अल्पसंख्यक समुदाय की महिलाओं पर हो रहे अत्याचार के मुद्दे पर कुछ कहें. यह सवाल सुनकर मसूद असहज हो गए. अनंतमुला ने आरोप लगाया कि बाढ़ से राहत के नाम पर पाकिस्तान में अल्पसंख्यक समुदाय की महिलाओं के साथ बलात्कार किया जा रहा है.

संयुक्त राष्ट्र में पाकिस्तान के दूत मसूद खान शुक्रवार को वाशिंगटन डीसी के नेशनल प्रेस क्लब में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित कर रहे थे. भारतीय मूल की अमेरिकी राजनीतिज्ञ ने उनसे कहा, आपको अल्पसंख्यक समुदाय की महिलाओं का जबरन धर्मांतरण करने, उनके साथ बलात्कार होने और अन्य अत्याचारों पर कुछ बोलना चाहिए. दरअसल, पाकिस्तान में आए विनाशकारी बाढ़ के बीच सिंध प्रांत से एक खबर आई कि यहां एक नाबालिग हिंदू लड़की के साथ गैंगरेप की वारदात को अंजाम दिया गया. दावा किया गया कि नाबालिग को बाढ़ राहत के नाम पर फ्री राशन देने का वादा करके उसके साथ रेप किया गया.

धर्मांतरण के मुद्दे पर भी मसूद खान से सवाल
मसूद खान पाकिस्तान में आई भयंकर बाढ़ को लेकर अपडेट दे रहे थे. इसी दौरान अनंतमुला ने उनसे पाकिस्तान में अल्पसंख्यक समुदाय की महिलाओं के खिलाफ हो रहे अत्याचारों पर सवाल किए और स्पष्ट जवाब की मांग की. उन्होंने पाकिस्तानी दूत से उनके देश में अल्पसंख्यकों का जबरदस्ती धर्मांतरण करने के मुद्दे पर भी प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करने की अपील की. एक रिपोर्ट के मुताबिक, जून के महीने में पाकिस्तान में अल्पसंख्यक समुदाय की कुल 157 महिलाओं का अपहरण किया गया, जबकि 112 महिलाएं यौन उत्पीडन का शिकार बनाई गईं. वहीं, 91 महिलाओं के साथ रेप किया गया.

‘पाकिस्तान ने बाढ़ के नाम पर रचा है पाखंड’
प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान मांगा अनंतमुला ने पाकिस्तान पर आरोप लगाए कि वह बाढ़ के नाम पर पाखंड रच रहा है. उन्होंने दूत मसूद खान से सवाल किया कि पाकिस्तान अपने बुनियादी ढांचे के विकास पर ध्यान क्यों नहीं दे रहा? वह ऐसा करने की बजाय अपनी सैन्य और परमाणु ताकत बढ़ाने में सारा निवेश कर रहा है. मसूद खान, अनंतमुला के सवालों से खासा परेशान दिखे और स्पष्ट जवाब नहीं दे सके. अमेरिका ने पिछले दिनों, विनाशकारी बाढ़ का सामना कर रहे पाकिस्तान को 3 करोड़ डॉलर की मानवीय सहायता देने की घोषणा की थी.

Latest Articles