Friday, March 1, 2024
spot_imgspot_img

सिद्धू मूसेवाला की हत्या के बाद लॉरेंस को आया था फ़ोन, जाने क्या हुई बात

- Advertisement -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला की हत्या में एक नया खुलासा हुआ है. एक ऑडियो कॉल सामने आया है, जिससे मूसेवाला की हत्यारों ने जेल में बंद लॉरेंस बिश्नोई को मूसेवाला की हत्या की जानकारी दी थी. लॉरेंस बिश्नोई और गोल्डी बरार सिद्धू मूसेवाला की हत्या में शामिल हैं. गोल्डी बरार ने सोशल मीडिया पर मूसेवाला की हत्या की जिम्मेदारी ली थी. हालांकि इस ऑडियो क्लिप के बारे में दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल का कहना है कि ये उनकी जानकारी में नहीं है.आइए आपको बताते हैं कि मूसेवाला की हत्या के बाद बदमाशों ने जेल में बंद लॉरेंस बिश्नोई से बातचीत में क्या कहा.

अज्ञात (जेल)- Hello…हांजी… जी बोलिए
अज्ञात कॉलर – अअअअअ…बात हो सकती है…
अज्ञात (जेल) – हां बिलकुल हो सकती है
अज्ञात कॉलर -करवाना ज़रा…ज़रूरी है…लॉरेंस
अज्ञात (जेल) – एक मिन्ट रुको…
अज्ञात कॉलर – थोड़ा जल्दी करें..ऐसे ही ले जाएं होल्ड पर ही

कुछ देर के लिए शांति

लॉरेंस – हैलो
अज्ञात कॉलर – स्पीकर चालू तो नहीं..गोल्डी नूं लाई फोन…मेरी गल्ल सुन…बहुत-बहुत मुबारकां परा (भाई) को..
लॉरेंस – ठीक हो..ठीक हो..
अज्ञात कॉलर – मैं केहा ज्ञानी चढ़ा दित्ता गड्डी…
लॉरेंस – हैं…
अज्ञात कॉलर – ज्ञानी चढ़ा दित्ता गड्डी
लॉरेंस – की करता..(क्या कर दिया..)
अज्ञात कॉलर – मैं केहा ज्ञानी चढ़ा दित्ता गड्डी..मूसेवाला मार दित्ता…(मार दिया)
लॉरेंस- मारता…? (मार दिया)
अज्ञात कॉलर – मारता…मारता… (मार दिया)
लॉरेंस – ओके..कट्ट दो..(काट दो)

इससे पहले बुधवार को पंजाब पुलिस ने मूसेवाला की हत्या में शामिल दो शार्पशूटर जगरूप रूपा और मनप्रीत मनु को एक मुठभेड़ में मार गिराया था. मुठभेड़ अमृतसर के बाहर भारत-पाकिस्तान सीमा से सटे इलाके में हुई थी. बदमाश एक फार्महाउस के अंदर छिपे हुए थे और पुलिस के साथ मुठभेड़ के दौरान करीब पांच घंटे तक दोनों ओर से गोलीबारी होती रही. आखिर में पुलिस की गोलियों ने दोनों बदमाशों को ढेर कर दिया. मुठभेड़ स्थल से एक एके-47 राइफल और एक पिस्टल बरामद की गई थी.

एंटी गैंगस्टर टास्क फोर्स के प्रमुख प्रमोद बान ने रूपा के साथ गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई के गुर्गे मनप्रीत की हत्या की पुष्टि की थी. उन्होंने कुछ अन्य लोगों के साथ मिलकर 29 मई को मूसेवाला पर गोली चलाई थी, जिससे गायक की मौके पर ही मौत हो गई थी.

पिछले महीने, बान ने बताया था कि जेल में बंद मुख्य साजिशकर्ता गैंगस्टर बिश्नोई ने कबूल किया था कि मूसेवाला को मारने की योजना विक्की मिद्दुखेड़ा की हत्या का बदला लेने के लिए पिछले साल अगस्त में रची गई थी. बान ने कहा था कि मूसेवाला की हत्या के एक दिन बाद 30 मई को पहली गिरफ्तारी के बाद से अब तक इस मामले में 13 लोगों को गिरफ्तार किया गया है.

 

 

Latest Articles